पत्नी और दो बेटों को पीछे छोड़ गए इरफान खान, जमीनदारों के परिवार में हुआ था जन्म!

0
60

दोस्तों बॉलीवुड फिल्म जगत के जगमगाते सितारे इरफान खान आज अपने अभिनय की यादे छोड़ इस दुनिया को अलविदा कह गए है, मुंबई के कोकिलाबेन हॉस्पिटल में बुधवार को उन्होंने अंतिम सांस ली। 53 साल के इरफान कैंसर और आंतों के इन्फेक्शन से जूझ रहे थे। इस दौरान उनके साथ उनका परिवार मौजूद था। इरफान के जाने से उनके परिवार सहित फिल्म इंडस्ट्री और देश-दुनिया के फैन्स के बीच गम का माहौल है। हम आपको उनके परिवार के बारे में बताने जा रहे हैं।

पत्नी और दो बेटों को पीछे छोड़ गए इरफान खान, जमीनदारों के परिवार में हुआ था जन्म! 7

बता दे की इरफान का जन्म राजस्थान के जयपुर के एक कारोबारी पठान परिवार में 7 जनवरी 1967 को  में हुआ था। मूलरूप से यह परिवार टोंक के पास एक गांव का रहने वाला है। उनकी माँ का नाम सईदा बेगम और पिता का नाम शहजादे यासीन अली खान था। वे जमीनदारों के परिवार से थे। उनके तीन बहन-भाई हैं।

पत्नी और दो बेटों को पीछे छोड़ गए इरफान खान, जमीनदारों के परिवार में हुआ था जन्म! 8

इरफान बचपन से क्रिकेट में अच्छे थे लेकिन उन्होंने बाद में एक्टिंग करने का फैसला किया। उन्होंने स्कॉलरशिप पर दिल्ली के नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में पढ़ाई कि। वहीं उनकी मुलाकात सुतापा सिकदर से हुई। साथ में पढ़ते हुए दोनों को एक दूसरे से प्यार हुआ और 25 फरवरी 1995 को इरफान खान और सुतापा सिकदर ने शादी कर ली। वे अपने रिश्ते के बारे में ज्यादा बातें नहीं किया करते थे।

पत्नी और दो बेटों को पीछे छोड़ गए इरफान खान, जमीनदारों के परिवार में हुआ था जन्म! 9

इरफान और सुतापा के दो बेटे हैं। उनके बड़े बेटे का नाम बाबिल खान है और छोटे बेटे का नाम अयान खान है। इरफान के बेटे बाबिल खान लंदन की पढ़ाई करते हैं। वे फिलहाल कोरोना वायरस के फैलने की वजह से मुंबई आए हुए थे और अपने माता-पिता के साथ रहते थे। बता दे की पिछले शनिवार को ही उनकी माँ सईदा बेगम का देहांत हो गया था और लॉकडाउन की वजह से उन्होंने अपनी माँ के अंतिम दर्शन वीडियो कॉल से किये थे और चार दिनों बाद वे  भी इस दुनिया को अलविदा कह गए।