‘बिहारी देसी कूलर’ सत्तू खा कर समय बिता रही अभिनेत्री रतन राजपूत, सोशल मीडिया शेयर की वीडियो!

0
15

दोस्तों महामारी कोरोना की वजह से देश में लगे लॉकडाउन की वजह से बिहार के एक गांव में फंसींअभिनेत्री रतन राजपूत जैसे-जैसे जुगाड़ करके अपना समय व्यतीत कर रही हैं कि कब वह मुंबई वापस लौटें। लेकिन जब तक वहां हैं, तब तक तो गुजारा करना ही है। इसीलिए रतन राजपूत का जब गैस सिलेंडर खत्म हो गया था तो उन्होंने जैसे-जैसे मिट्टी और ईंट की मदद से चूल्हा तैयार किया था। लेकिन तेज बारिश और तूफान ने रतन राजपूत के चूल्हे को तहस-नहस कर दिया और उसके साथ ही उनका खाना बनाने का एकमात्र ज़रिया भी उजड़ गया।

'बिहारी देसी कूलर' सत्तू खा कर समय बिता रही अभिनेत्री रतन राजपूत, सोशल मीडिया शेयर की वीडियो! 3

बता दे की ऐसे में रतन राजपूत ने बिहार का देसी कूलर माने जाने वाले सत्तू का इस्तेमाल किया। उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पर वीडियो शेयर किया, जिसमें वह सत्तू से डिश बनाते हुए नजर आ रही हैं। इस चने के सत्तू से उन्होंने नमकीन और मीठी बेजोड़ डिश बनाई। इस डिश को भी बनाने के लिए थोड़ी-बहुत आग की जरूरत थी।

पहले उन्होंने प्याज, कैरी, नमक और चने के आटे के साथ नमकीन सत्तू बनाया और फिर गुड़ और घी मिले सत्तू से मीठा सत्तू बनाया। बाद में उन्होंने सत्तू का शर्बत भी बनाया। रतन ने आगे बताया कि सत्तू की डिश को तीन चरणों में खाया जाता है और हर चरण पर टेस्ट अलग होता जाएगा। रतन ने बताया कि अब उन्हें बिना चूल्हे और आग के भी खाने की कुछ चीजें बनाने का जुगाड़ मिल गया है। यह जुगाड़ किसी प्रोटीन शेक से कम नहीं और बिहार में गर्मियों का देसी कूलर माना जाता है।