‘श्रीमान श्रीमती’ के ‘केशू’ ‘प्रिंस ऑफ कॉमिडी’जतिन कनकिया को मिलती थी दर्दनाक मौत, 5 साल में हासिल की थी खास पहचान!

0
19

दोस्तों कोरोना वायरल के चलते देश में लॉकडाउन के कारण लोगो को अपने घरो में बंद होना पड़ा है ऐसे में दूरदर्शन पर 80 और 90 के दशक के कई हिट और यादगार टीवी शो प्रसारित किये जा रहे हैं। इन्हीं पॉपुलर शो में से एक है ‘श्रीमान श्रीमती’ भी है जो उस समय के काफी पसंद किया जाने वाले शो रहा है। 5 साल तक चला यह शो इतना सुपरहिट रहा है कि इसे बाद में अन्य भाषाओं में डब करके भी टेलिकास्ट किया गया।

‘श्रीमान श्रीमती’ के ‘केशू’ ‘प्रिंस ऑफ कॉमिडी’जतिन कनकिया को मिलती थी दर्दनाक मौत, 5 साल में हासिल की थी खास पहचान! 9

बता दे की लॉकडाउन के चलते इस शो को फिर प्रसारित किया जा रहा ऐसे इस शो के सितारे फिर चर्चाओं में आ गये हैं, जिसने केशू यानी केशव कुलकर्णी बनकर लोगों के दिलों में अमिट जगह बनाई। शो में केशू यानी केशव कुलकर्णी का किरदार ऐक्टर जतिन कनकिया ने निभाया था। जतिन कनकिया ने कई हिंदी टीवी शोज, हिंदी फिल्मों और गुजराती नाटकों में काम किया। टीवी की दुनिया में उन्होंने ‘कभी ये कभी वो’, ‘पड़ोसन’, ‘बात एक राज़ की’, ‘चश्मे बद्दूर’, ‘गुदगुदी’, ‘ऑल दे बेस्ट’ और ‘मिसेज माधुरी दीक्षित’ जैसे दर्जनों टीवी शोज में काम किया।

‘श्रीमान श्रीमती’ के ‘केशू’ ‘प्रिंस ऑफ कॉमिडी’जतिन कनकिया को मिलती थी दर्दनाक मौत, 5 साल में हासिल की थी खास पहचान! 10

आपको बता दे की अभिनेता जतिन कनकिया की कॉमिक टाइमिंग और स्किल्स का ही कमाल था कि उन्हें ‘प्रिंस ऑफ कॉमिडी’ का खिताब से भी नवाज़ा जा चूका है । जतिन कनकिया ने ‘श्रीमान श्रीमती’ से ही अपने ऐक्टिंग करियर की शुरुआत की थी। लेकिन इस सीरियल में उनकी ऐक्टिंग देखकर कोई भी यह नहीं कह सकता कि वह पहली बार ऐक्टिंग कर रहे थे। मात्र 5 साल के अंदर ही जतिन कनकिया ने 20 से ज्यादा टीवी शोज और कुछ फिल्मों में काम किया।

‘श्रीमान श्रीमती’ के ‘केशू’ ‘प्रिंस ऑफ कॉमिडी’जतिन कनकिया को मिलती थी दर्दनाक मौत, 5 साल में हासिल की थी खास पहचान! 11 ‘श्रीमान श्रीमती’ के ‘केशू’ ‘प्रिंस ऑफ कॉमिडी’जतिन कनकिया को मिलती थी दर्दनाक मौत, 5 साल में हासिल की थी खास पहचान! 12

लेकिन 1999 में ही जतिन कनकिया के साथ वह हुआ जिसकी कोई कल्पना भी नहीं कर सकता। मात्र 46 साल की उम्र में ही उनकी पैनक्रियाटिक कैंसर से मौत हो गई। कैंसर के कारण जतिन कनकिया के दिन बड़े ही दर्दनाक गुजरे। जो ऐक्टर स्क्रीन पर सभी को हंसाता रहता था, असल जिंदगी में भी वह ऐसा ही था। बताया जाता है कि जब जतिन अस्पताल में आईसीयू में थे और अपनी आखिरी सांसें गिन रहे थे तो भी उनके चेहरे पर मुस्कुराहट थी। वह मुस्कुराहट लिए ही इस दुनिया से चले गए। लेकिन फैन्स को जिंदगीभर की टीस दे गए। 1994 में डेब्यू और 1999 में उनकी मौत हो गई थी।