लॉकडाउन के चलते सड़कों पर फल बेचने को मजबूर हैं आयुष्मान खुराना की फिल्म ड्रीम गर्ल का ये अभिनेता!

0
33

दोस्तों हर एक फिल्म कई छोटे बड़े अभिनेता एक साथ काम करते है,जिनमे फिल्म के मुख्या अभिनेता को लोग नोटिस करते है लेकिन फिल्मो में छोटे मोटे रोल करने वाले भी कई होते है जो लोगो का मनोरंजन करते है, फिल्मों में काम करने वाले बहुत से ऐसे कलाकार हैं जो फिल्मों में छोटी मोटी भूमिका निभाकर अपना गुजारा कर रहे हैं। जब काम चल रहा था, तब तो इन्हें समय समय पर कहीं न कहीं से काम मिलता रहता था। वैसे ही बॉलीवुड फिल्म ‘ड्रीम गर्ल’ फिल्म में एक सीन है जब बैंक से एक आदमी आयुष्मान खुराना के पिता बने ऐक्टर अन्नू कपूर से किश्त मांगने आता है और कहता है लोन जो लिया है वह उसकी किश्त लेने आया है। उस सीन में नजर अभिनेता सोशल मीडिया पर छाए हुए है इनका नाम सोलंकी दिवाकर हैं।

लॉकडाउन के चलते सड़कों पर फल बेचने को मजबूर हैं आयुष्मान खुराना की फिल्म ड्रीम गर्ल का ये अभिनेता! 11

लॉकडाउन के चलते सड़कों पर फल बेचने को मजबूर हैं आयुष्मान खुराना की फिल्म ड्रीम गर्ल का ये अभिनेता! 12

बता दे की अभिनेता सोलंकी दिवाकर ने सुशांत सिंह राजपूत के साथ फिल्म ‘सोन चिरैया’ में भी काम किया था। इसके अलावा उन्होंने ‘तितली’ और ‘कड़वी हवा’ जैसी फिल्मों में भी काम किया है। सोलंकी दिवाकर पिछले 8-10 साल से नई दिल्ली के ओखला मंडी जाकर फल लाते हैं और उन्हें बेचकर घर का खर्च चलाते हैं। ऐक्टिंग का काम रोज-रोज नहीं मिलता, इसलिए फल बेचने का काम करना पड़ता है।

लॉकडाउन के चलते सड़कों पर फल बेचने को मजबूर हैं आयुष्मान खुराना की फिल्म ड्रीम गर्ल का ये अभिनेता! 13

फल बेचकर जो कमाई होती है उसी से वह घर का किराया, बच्चों की फीस और अन्य काम करते हैं। एएनआई से बातचीत में सोलंकी दिवाकर ने बताया कि लॉकडाउन में शूटिंग का काम रुकने के कारण उन्हें घर चलाने में बहुत परेशानी आ रही थी। घर का किराया भरना था, बच्चों की फीस भी थी तो इसलिए उन्होंने फिर से फल बेचना शुरू कर दिया।

लॉकडाउन के चलते सड़कों पर फल बेचने को मजबूर हैं आयुष्मान खुराना की फिल्म ड्रीम गर्ल का ये अभिनेता! 14

लॉकडाउन के चलते सड़कों पर फल बेचने को मजबूर हैं आयुष्मान खुराना की फिल्म ड्रीम गर्ल का ये अभिनेता! 15

उन्होंने आगे बताया कि वह ऋषि कपूर के साथ भी एक फिल्म में काम करने वाले थे। लेकिन लॉकडाउन के कारण शूटिंग रुक गई और इसी बीच ऋषि कपूर का भी निधन हो गया। सोलंकी दिवाकर ने आगे कहा कि अगर लॉकडाउन नहीं हुआ होता तो आज वह मुंबई में फिल्मों में छोटे-मोटे रोल करके गुजारा कर रहे होते। मूल रूप से आगरा के रहने वाले सोलंकी दिवाकर पिछले करीब 25 सालों से दिल्ली में रह रहे हैं और रोजाना सुबह फल लेने ओखला मंडी जाते हैं। इसके बाद वह सुबह से शाम तक मालवीय नगर की गलियों में घूम-घूमकर फल बेचते हैं।