माइकल जैक्सन एक में कमाते थे 97 करोड़ रूपये , हमेशा बना रहता था उनके मन में अपनी हत्या का डर!

0
101

मशहूर पॉप स्टार माइकल जैक्सन को गुजरे 11 साल हो चुके हैं, लेकिन उनकी जिदंगी के बारे में रह रहकर चौंकने वाले खुलासे होते रहते हैं। एक बार फिर से माइकल जैक्सन की जिंदगी के बारे में हैरान कर देने वाला खुलासा हुआ है। वह अमर होने चाहते थे, लेकिन उन्हें इस बात का भी डर सताता था कि उनका कई कत्ल करना चाहता है। इन सभी बातों का खुलासा हाल ही में रिलीज हुई उनकी जिंदगी पर आधारित किताब ‘बैड: एन अनप्रेसिडेंटेड इन्वेस्टीगेशन इनटू द माइकल जैक्सन कवर अप’ में किया गया है। इस किताब को ऑस्ट्रेलियन पत्रकार डायलन हावर्ड ने लिखा है। डायलन हावर्ड ने इस किताब को लिखने की वजह माइकल जैक्सन की रहस्यमय डायरी बताई है जोकि उनसे पहले किसी के भी हाथ नहीं लगी थी।

माइकल जैक्सन एक में कमाते थे 97 करोड़ रूपये , हमेशा बना रहता था उनके मन में अपनी हत्या का डर! 1

डायलन हावर्ड की किताब के अनुसार, माइकल जैक्सन खुद को फिर से लॉन्च करना चाहते थे। माइकल जैक्सन अपना कर्ज चुकाने के लिए आखिरी कोशिश में लगे हुए थे। वह एक हफ्ते में 20 मिलियन डॉलर यानी करीब 97 करोड़ रुपये कमाते थे। उनके अंदर दुनिया के पहले अरबपति एंटरटेनर- एक्टर- डायरेक्टर बनने की काबलियत थी। इसके लिए माइकल जैक्सन कुछ खास काम करना चाहते थे। इसके लिए उन्होंने एक लिस्ट भी तैयार की हुई थी।

माइकल जैक्सन एक में कमाते थे 97 करोड़ रूपये , हमेशा बना रहता था उनके मन में अपनी हत्या का डर! 2

माइकल जैक्सन की इस लिस्ट में क्रिक डू सोलेइल कॉन्सर्ट्स, एथलेटिक्स ब्रांड नाइकी के साथ डील और हॉलीवुड फिल्में शामिल थीं। वह ऐसे शख्स की तलाश कर रहे थे जो 20,000 लीग्स अंडर द सी और द सेवंथ वॉयेज ऑफ सिनबाद जैसी क्लासिक फिल्मों के रीमेक बनाने की सोच रखता हो। माइकल अपने करियर को फिर से शुरू कर अपने आदर्श चार्ली चैपलिन, माइकल एंजेलो और वॉल्ट डिज्नी की तरह अमर होना चाहते थे।

माइकल जैक्सन एक में कमाते थे 97 करोड़ रूपये , हमेशा बना रहता था उनके मन में अपनी हत्या का डर! 3

कथित तौर पर माइकल जैक्सन ने लिखा था, ‘अगर मैं फिल्मों पर ध्यान केंद्रित नहीं करूंगा तो मुझे अमरता नहीं मिल पाएगी।’ किताब के मुताबिक माइकल अपनी संपत्ति पर नियंत्रण पाने के लिए काफी बेताब थे। उन्हें लगता था कि उनके मैनेजर और सलाहकारों ने उनका फायदा उठाया है, इसलिए वह उनको हटाना भी चाहते थे। डायलन हावर्ड की किताब के अनुसार माइकल जैक्सन की डायरी में लिखा था, माइकल को अपने मैनेजर आर तोहमे पर शक था और वह उन्हें अपने प्लेन या घर में नहीं रखना चाहते थे।

माइकल जैक्सन एक में कमाते थे 97 करोड़ रूपये , हमेशा बना रहता था उनके मन में अपनी हत्या का डर! 4

लेखक ने यह भी दावा किया है कि माइकल ने अपनी डायरी में फिजिशियन डॉ. कॉनरेड मुरे का उल्लेख भी किया था। किताब के मुताबिक जैक्सन ने लिखा था, ‘कॉनरेड को अब प्रैक्टिस करनी चाहिए। मैं अब थक नहीं सकता।’ अपनी मौत के बारे में माइकल जैक्सन ने डायरी में लिखा था, ‘मुझे डर है कि कोई मुझे मारने की कोशिश कर रहा है। बुरे लोग हर जगह होते हैं। वह मुझे खत्म करके मेरी पब्लिशिंग कंपनी हथियाना चाहते हैं। सिस्टम मेरे उस कैटलॉग के लिए मुझे मारना चाहता है, जिसे मैं बेच नहीं रहा हूं।’