भोजपुरीअभिनेत्री अनुपमा पाठक ने की आत्महत्या, कैंसर और पैसे की तंग्गी का कर रही थी सामना!

0
611

दोस्तों साल 2020 फिल्म जगत के लिए बहुत की ख़राब साबित होता नज़र आ रहा है, इस साल में कई फिल्म सितारे इस दुनिया को अलविदा कह चुके है, हाल ही में एक और फिल्म सितारे ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया है। भोजपुरी फिल्मों व टीवी धारावाहिकों में अभिनय कर चुकीं 40 वर्षीय अभिनेत्री अनुपमा पाठक‌ ने मुम्बई में अपने दहिसर स्थित किराये के घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

भोजपुरीअभिनेत्री अनुपमा पाठक ने की आत्महत्या, कैंसर और पैसे की तंग्गी का कर रही थी सामना! 9

बता दे की अभिनेत्री अनुपमा पाठक न सिर्फ पैसों की तंगी से बहुत परेशान रहा करती थीं, बल्कि वो कैंसर जैसी बीमारी से भी पीड़ित थीं। बता दे की उन्होंने चार दिन पहले यानि 2 अगस्त की रात को मौत को गले लगाया। खुदकुशी करने से एक दिन पहले अनुपमा ने फेसबुक लाइव किया था। जिसमें उन्होंने लोगों द्वारा आत्महत्या करने के पीछे की वजहों और लोगों को परेशान लोगों को परेशान करने‌ के बारे में विस्तार से बात की थी।

भोजपुरीअभिनेत्री अनुपमा पाठक ने की आत्महत्या, कैंसर और पैसे की तंग्गी का कर रही थी सामना! 10

10 मिनट के इस वीडियो में अनुपमा माननिक रूप से बेहद परेशान नजर आ रही हैं, लेकिन वीडियो के अंत में उन्होंने कहीं भी इस बात का जिक्र नहीं किया है किया था कि वे भी आत्महत्या करने के बारे में सोच रहीं हैं या फिर वे भी जल्द ही ऐसा ही कोई कदम उठाने जा रहीं हैं। लेकिन उनका ये लाइव वीडियो उनकी मौत से पहले का आखिरी वीडियो और खुदकुशी करने का संकेत साबित हुआ।

भोजपुरीअभिनेत्री अनुपमा पाठक ने की आत्महत्या, कैंसर और पैसे की तंग्गी का कर रही थी सामना! 11

अनुपमा ने फांसी लगाने से पहले एक सुइसाइड नोट भी छोड़ा है। जिसमें उन्होंने आत्महत्या करने की दो मुख्य वजह गिनाईं हैं। पहली वजह के तौर पर उन्होंने कहा है कि मनीष झा नामक एक व्यक्ति ने इस साल मई के महीने में उनसे उनकी दो पहिया वाहन ली थी, लेकिन अपने मूल निवास से लौटने के बाद जब उन्होंने अपनी दुपहिया वाहन मनीष से वापस मांगी, तो उस शख्स ने वो वाहन अनुपमा को वापस करने से मना कर दिया। इस सुइसाइड नोट में अनुपमा ने अपनी परेशानी की दूसरी वजह के तौर पर विस्डम नामक किसी प्रोडक्शन कंपनी में 10,000 रुपये का निवेश करने और ब्याज सहित कंपनी द्वारा पैसे नहीं लौटाये जाने की बात कही है। फिलहाल काशी-मीरा पुलिस इस पूरे मामले की जांच कर रही है।

भोजपुरीअभिनेत्री अनुपमा पाठक ने की आत्महत्या, कैंसर और पैसे की तंग्गी का कर रही थी सामना! 12

इस बीच, फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉइज (FWICE) के अध्यक्ष बी. एन. तिवारी ने इस परबात करते हुए कहा कि वे कैंसर का शिकार होने के साथ साथ आर्थिक रूप से भी काफी परेशान‌ थीं और ऐसे में फेडरेशन ने भी उनकी कई बार आर्थिक तौर पर मदद की गयी थी। बी. एन. तिवारी ने बताया कि अनुपमा‌ को निर्देशन में भी काफी रूची थी और लॉकडाउन के पहले वे मैथिली भाषा की एक फिल्म के निर्देशन में व्यस्त थीं। अनुपमा ने हाल ही में दो शॉर्ट फिल्मों में भी अभिनय किया था।