इस शादीशुदा हीरोइन पर आया था आशुतोष राणा का दिल, सेट से धक्के मारकर निकाल दिए गए थे, पढ़िए पूरी कहानी

0
397

आशुतोष राणा अपनी बहतरीन अदाकारी के लिए जाने जाते है. उन्होंने फिल्मो में हर तरह के रोल किये है. ‘जख्म’, ‘दुश्मन’ और ‘संघर्ष’ जैसी फिल्मों में बेहतरीन अभिनय से दर्शकों का मन जीतने वाले आशुतोष राणा आज अपना 50वां जन्मदिन मना रहे हैं। टीवी सीरियल ‘स्वाभिमान’ से अपना करियर शुरू करने वाले आशुतोष मध्य प्रदेश के रहने वाले हैं। फिल्म ‘दुश्मन’ में साइको किलर किरदार रोंगंटे खडे करने वाला था.

आशुतोष अलग किरदार करने के लिए जाने जाते हैं। आशुतोष पुजा पाठ में विश्वास रखने वाले इंसान है. वो भगवान शिव के बहुत बड़े भक्त हैं। वो अपने इस शौक को अपनी आस्था तथा धार्मिक विश्वास का रूप मानते हैं। उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि वो अपने गुरु के कहने पर ही फिल्म जगत में आए थे और अब तक 30 से अधिक फिल्मों तथा कई टीवी सीरियलों में काम कर चुके हैं।

 

 

हर किसी की ज़िन्दगी में उतार चढाव आते रहते है. एक दिन आशुतोष को सेट से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था. आज वही आशुतोष राणा अपने दमदार अभिनय से बॉलीवुड में तहलका मचा रहे हैं। उनके जन्मदिन के अवसर पर जानते हैं उनकी जिंदगी के कुछ अनकहे पलों के बारे में। आशुतोष ने एक इंटरव्यू में अपने फिल्मी करियर की बात सुनाते हुए बताया था कि एक बार वो फिल्म निर्माता-निर्देशक महेश भट्ट से मिलने गए थे।

भारतीय परंपरा के अनुसार, उन्होंने महेश भट्ट के पांव छू लिए। पांव छूते ही वो भड़क उठे क्योंकि उन्हें पैर छूने वालों से बहुत नफरत थी। उन्होंने आशुतोष को अपने फिल्म सेट से बाहर निकलवा दिया। इतना ही नहीं वो अपने सहायक निर्देशकों पर भी काफी गुस्सा हुए कि आखिर उन्होंने उसे कैसे फिल्म के सेट पर घुसने दिया। लेकिन आशुतोष राणा ने इतने अपमान के बाद भी हिम्मत नहीं हारी और न ही तो निराश हुए.

जब भी महेश भट्ट उन्हें मिलते तो वो उनके पाँव ज़रूर छूटे. उन्होंने बताया कि आखिर महेश भट्ट ने एक दिन उनसे पूछ ही लिया कि वो उनके पैर क्यों छूते हैं जब कि उन्हें इससे नफरत है। आशुतोष ने जवाब दिया कि बड़ों के पैर छूना उनके संस्कार में है जिसे वो नहीं छोड़ सकते। आशुतोष ने कहा इस पर महेश भट्ट ने उन्हें गले से लगा लिया और टीवी सीरियल ‘स्वाभिमान’ में उन्हें गुंडे का पहला रोल दिया।