Breaking News
Home / Hindi / ये लक्षण कभी न करे नजरअंदाज, हो सकता है कैंसर

ये लक्षण कभी न करे नजरअंदाज, हो सकता है कैंसर

कैंसर हजारो वर्ष पुरानी बीमारी है पर आज भी उसका पूरा इलाज संभव नहीं है. हर साल लाखो लोग कैंसर से मर जाते है. कैंसर होने पर मरीज पल पल डरता है और सोचता है आखिर उसकी ज़िन्दगी की कितने दिन बचे है. अगर समय पर इलाज कराया जाए तो कैंसर से बचना संभव है. आज हम आपको कुछ ऐसे लक्षण बताने जा रहे है जिससे आप ये जान सकते है कि शरीर कैंसर के होने से पहले हमे क्या-क्या संकेत देता है

आंतो में सामान्य समस्या होना बड़ी बात नही है लेकिन अगर लगातार आंतो में आपको परेशानी होती गई तो यह कोलेन या कोलोरेक्ट्ल कैंसर का शुरूआती लक्षण हो सकता है डायरिया और अपच की समस्या इस लक्ष्ण को दर्शाते है इसके कारण पेट में गैस और दर्द की समस्या भी हो सकती है.

शरीर में समय पर खून का थक्का जमना जरूरी है. अगर खून लगातार बह रहा है और अगर  कैंसर की संभावना है तो इसके कारण खून मलाशय के द्वारा बाहर निकलता है यह कोलेन कैंसर का एक लक्षण है इसके अलावा अगर मल-मूत्र त्यागने के समय यदि पीड़ा होती है या उस समय खून निकलता है तो ये प्रोस्टेट कैंसर के लक्षण होते है .महिलाओं में यदि मासिक चक्र के बाद भी रक्त स्त्राव नही रुकता है तो महिलाओं को ध्यान देने की जरूरत है

अगर किसी व्यक्ति को रात को सोते समय अधिक पसीना आता है तो यह शरीर में रिएक्शन का संकेत है. अगर यह समस्या कई हफ़्तों तक लगातार चलती रहे तो जल्द से जल्द डॉ की सलाह लें, ये कैंसर का लक्षण हो सकता है.  लगातार पीठ में दर्द होना, कोलोरेक्‍टल या प्रोस्‍टेट कैंसर का कारण होता है.

 

बिना वजह ज्यादा थकान होना भी कैंसर का ही एक लक्षण है. व्यक्ति का बिना किसी कारण से वजन कम होना भी कैंसर का शुरूआती लक्षण है. अगर मनुष्य का बिना किसी प्रयत्न के चार-पांच किलो से ज्यादा वजन कम हो जायें तो यह भी कैंसर का एक संकेत है. लगातार सीने में जलन होना और अपच भी चिंता का विषय है.

फल, सब्जियां, साबुत अनाज और फलियों से बना संतुलित आहार, आवश्यक विटामिन और मिनरल स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। हमेशा ताज़ी फल सब्जियां खाए. लेकिन कैंसर को मात देने में सबसे ज़बरदस्त चीज है करेला. करेला भले ही कड़वा हो पर आपको कैंसर से बचाने में ये आपकी मदद कर सकता है.