पाकिस्तानी संसद में लगे इमरान खान मुर्दाबाद के नारे, सांसदों ने कहा-हम पर हमला कर गया भारत!

0
185

बीते 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले के 12 दिन के भीतर भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान को सबक सिखा दिया है। वायुसेना ने मंगलवार तड़के पाकिस्तान में घुसकर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ठिकानों को तबाह किया।इस हमले से बौखलाए पाक ने LOC पर फायरिंग शुरू कर दी है।

वहीं पाकिस्तानी संसद में इमरान खान मुर्दाबाद के नारे लगे हैं। सांसदों ने कहा है कि भारत हम पर हमला कर गया और हम कुछ भी नहीं कर पाए। सांसदों ने SHAME SHAME के नारे लगाए। दिलचस्प यह है कि पाकिस्तान की ओर से हमले की बात स्वीकार ली गई है। हालांकि पाकिस्तान ने किसी भी तरह के नुकसान की बात मानने से इंकार कर दिया है। आइए जानते हैं कि भारत ने कैसे इस पराक्रम को अंजाम दिया। 15 फरवरी पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना के एयर चीफ मार्शल बीरेंद्र सिंह धनोआ ने पाकिस्तान को जवाब देने के लिए एयरस्ट्राइक का प्रपोजल रखा। इस प्रपोजल को सरकार ने तुरंत मंजूरी दे दी।

16-20 फरवरी  इसके बाद भारतीय एयरफोर्स और आर्मी ने हेरॉन ड्रोन के साथ नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर हवाई निगरानी शुरू कर दी। 20-22 फरवरी इस दौरान भारतीय वायुसेना और इंटेलिजेंस एजेंसियों ने स्ट्राइक के लिए संभावित साइट्स को निर्धारित किया। 21 फरवरी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार अजीत डोभाल की ओर से एयरस्ट्राइक के लिए लक्ष्य को निर्धारित किया गया।

22 फरवरी भारतीय वायुसेना के 1 स्क्वाड्रन  टाइगर्स और 7 स्क्वाड्रन बैटल एक्सिस को स्ट्राइक मिशन के लिए एक्टिव किया गया। इसके अलावा 2 दो मिराज स्क्वाड्रन मिशन के लिए 12 जेट चुने गए। 24 फरवरी पंजाब के भटिंडा से वार्निंग जेट और यूपी के आगरा से मिड एयर रिफ्यूलिंग का देश के भीतर ट्रायल किया गया। 25 फरवरी इस दिन ऑपरेशन की शुरुआत करते हुए 12 मिराज विमान को तैयार किया गया। स्ट्राइक से पहले मिराज पायलट ने लक्ष्य को कंफर्म किया। पाकिस्तान के भीतर मुजफ्फराबाद में लेसर गाइडेड बमों के जरिए हमला किया गया। रात 3:20 बजे से 4 बजे के बीच इस पराक्रम को अंजाम दिया गया। 26 फरवरी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने पीएम नरेंद्र मोदी को इस ऑपरेशन के बारे में जानकारी दी।

 खबरों की माने तो राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल इस समय सेना प्रमुख बिपिन रावत और वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ के साथ अहम बैठक कर रहे हैं। इस बैठक में बॉर्डर के हालात पर नजर रखी जा रही है।एयर स्ट्राइक के बाद राजधानी दिल्ली में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। लुटियंस इलाके में अलर्ट जारी किया गया है, इसके अलावा एयरपोर्ट पर भी हाई अलर्ट जारी है। इससे पहले वायुसेना के करीब 12 मिराज विमानों ने इस ऑपरेशन को अंजाम दिया। वहीं हमले में 300 से ज्यादा आतंकियों के मारे जाने की संभावना है।