संजय दत्त के 26 साल पुराने इंटरव्यू में पत्नी ऋचा से शादी टूटने का खुला राज, साली को बताया दोषी !

0
59

दोस्तों बॉलीवुड फिल्म जगत के जाने माने अभिनेता संजय दत्त हमेशा ही अपनी फिल्मों से ज्यादावे अपनी निजी जिंदगी को लेकर चर्चाओ में रहे है। संजय दत्त की लाइफ काफी विवादित रहा है चाहे ड्रग्स की लत हो या मुंबई बम ब्लास्ट में संजय नाम खबरों में लम्बे समय तक बना रहा था। इसके साथ ही संजय की लव लाइफ, शादी भी काफी विवादों में रही है। संजय दत्त ने तीन शादियां की, पहली पत्नी ऋचा शर्मा और फिर रिया पिल्लई से तलाक के सालों बाद संजय ने मान्यता दत्त से तीसरी शादी की।

संजय की पहली शादी ऋचा शर्मा से हुई थी जो खुद पेशे से एक्ट्रेस थीं। शादी के शुरुआती सालों में दोनों के बीच सबकुछ ठीक था। प्यार था, एक दूसरे के लिए इज्जत थी। लेकिन इनके रिश्ते में दरार तब आनी शुरू हो गई जब ऋचा को ब्रेन ट्यूमर की शिकायत बताई गई। ऋचा को ट्यूमर के इलाज के लिए अपने पेरेंट्स के पास अमेरिका जाना पड़ा।

 खबरों की माने तो 3 साल तक ऋचा ने अमेरिका में अपने इलाज कराया था। लेकिन इस बीच उनको संजय और माधुरी की बढ़ती नजदीकियों के बारे में पता चला वो अपना इलाज छोड़ वापस इंडिया आ गई।इस बीच ऋचा अपने और संजय के बीच सबकुछ ठीक करने की कोशिश कर रही थीं कि उन्हें दोबारा ट्यूमर की शिकायत बताई गई। और उन्हें वापस इंडिया छोड़ कर अमेरिका जाना पड़ा। एक इंटरव्यू के मुताबिक ऋचा ने संजय से पूछा था कि क्या वो उनसे तलाक लेना चाहते हैं? इसके जवाब में संजय ने ‘नहीं’ कहा था।

इस बीच संजय और ऋचा का रिश्ता पूरी तरह से बदल गया था। दोनों के बीच में इतनी दूरी आ गई कि उनका तलाक हो गया। इनके तलाक के पीछे संजय की साली और ऋचा की बहन एना ने माधुरी और संजय के अफेयर को जिम्मेदार ठहराया। लेकिन ऋचा से अपने तलाक और इस पूरे मामले पर संजय दत्त ने 1993 में एक इंटरव्यू में बताया था कि ये तलाक ऋचा के परिवार वालों की वजह से हुआ था।

26 साल पहले मूवी मैगज़ीन को दिए इंटरव्यू में संजय ने बताया कि उनका और ऋचा का रिश्ता उनकी बीमारी की वजह से नहीं टूटा। वो ऐसे इंसान नहीं हैं कि अपनी पत्नी को सिर्फ इसलिए छोड़ दे कि उसके बाल झड़ने लगे हैं या वो बीमार हैं। इस इंटरव्यू में उन्होंने बताया कि उन्हें ऋचा से कोई शिकायत नहीं, लेकिन उनके पेरेंट्स से है। क्योंकि उनकी वजह से ये रिश्ता टूटा। संजय के मुताबिक ऋचा के माता-पिता उनपर गलत आरोप लगाते थे। संजय ने बताया था की एना उनके और ऋचा के टूटने की सबसे बड़ी वजह थी। वो दोनों के रिश्ते में ग़लतफ़हमी पैदा करती थी जिस वजह दोनों के रिश्ते में दूरियां आ गई। संजय ने कहा ‘दिक्कत मेरे और रिचा के बीच थी। हम मिलकर देख लेते अगर किसी को झुकना पड़ता तो हम झुक जाते। लेकिन एना हमारे बीच बोलने वाली कोई नहीं होती थी।  वहीं ऋचा को लेकर भी संजय ने कहा था ‘जब ऋचा को कैंसर नहीं था तब भी वो भारत छोड़ने की बात कहती थीं। उन्हें भारत पसंद नहीं था।

संजय ने आगे बताया था की वो हमेशा से न्यूयॉर्क अपने पेरेंट्स के पास रहना चाहती थीं। उन्हें कभी मेरा काम पसंद नहीं था। वो हमेशा मुझसे पूछती थी कि तुम रात 10 बजे तक क्यों काम करते हो? तुम 8 बजे तक घर क्यों नहीं आ जाते। जब कि वो बहोत अच्छे से जानती थी कि फिल्म इंडस्ट्री कैसे काम करती है। लोगों को लगता है कि ऋचा की बीमारी की वजह से हमारा रिश्ता टूटा। बल्कि ये कोई नहीं जानता कि उसी वजह से हम और करीब आये थे। लेकिन उनके पेरेंट्स ने सब खराब कर दिया। बता दे की तलाक के बाद संजय के ऋचा के साथ अच्छे रिश्ते थे, दोनों आपस में बात करते थे और अपनी बेटी त्रिशला की फ़िक्र किया करते थे लेकिन साल 1997 में बीमारी के चलते ऋचा ने दुनिया को अलविदा कह दिया था।